पूर्व महामंत्री आशीष अधिकारी गुट के नेता सरदार गुरदीप सिंह एवम सरदार अमरजीत सिंह के अध्यक्षता में तारकंपनी में एक बैठक का आयोजन

90

जमशेदपुर: पूर्व महामंत्री श्री आशीष अधिकारी गुट के नेता सरदार गुरदीप सिंह एवम सरदार अमरजीत सिंह के अध्यक्षता में तारकंपनी आवास परिसर में एक बैठक का आयोजन किया गया। इस बैठक में आगामी यूनियन चुनाव को देखते हुए बहुत सारी विषयो पर चर्चा किया गया । सर्बसम्मति से कुछ निर्णय भी लिया गया-

1. अभी जो बर्तमान केअर टेकर यूनियन है उनके द्वारा सत्ता पाने के लिए 2018 के यूनियन चुनाव में मजदूरों को जो प्रोलोवन दिया गया था एवम जिस प्रोलोवन के कारण ये लोग सत्ता में आए थे उसमें से एक भी बायदा अपने तीन साल के कार्यकाल में नही कर पाया। उनलोगों ने सत्ता में आने के लिए मजदूरों से निम्न बायदा किये थे।
(1) E Grade के विसंगतियों को तत्काल दूर कराएंगे।
(2) E Grade का सिक लिव एनकेशमेंट तत्काल करवाएंगे।
(3) 2021 में Grade Rivision इंस्टालमेन्टरहित एबं 5 बर्ष करवाएंगे।
(4) 5 बर्ष का प्रोमोशन पॉलिसी तत्काल रद्द करवाया जायेगा।
(5) नई इंसेंटिव पालिसी तत्काल प्रभावित कराया जाएगा जिससे सभी मज़दूरों को एक मुश्त लाभ मिलेगा।
(6) मजदूरों को बार्षिक यूनिफॉर्म तत्काल डबल दिलाया जाएगा।
(7) रिटायर के बाद मजदूरों को अपनी कंपनी क्वार्टर में रहने की समय सीमा तत्काल बड़ाया जाएगा।
(8) और अन्त मैं हम बायदा करते हैं कि बकाया वेतन दिलाने हेतु तुरंत दबाब बनाया जायेगा।
इन बर्तमान केअर टेकर यूनियन के 2018 के चुनाव घोषणा पत्र से लगता है कि यूनियन रेलवे के तत्काल टिकट काउंटर खोल रखा है। तीन साल के कार्यकाल बीत जाने के बाद भी इस चुनाव घोषणा पत्र में से एक भी बायदा इस यूनियन ने नही किया है। हमेशा covid की दुहाई देते रहे। लेकिन इस covid मैं सिर्फ एक जरुरी काम इस यूनियन ने किया है। हर मजदूरों के बेटे- बेटी का हक छीनकर तीन साल के कार्यकाल में सिर्फ इनके यूनियन के डिप्टी प्रेसिडेंट श्रीकांत सिंह अपने बेटे को कंपनी में नौकरी देकर एबं तत्काल परमानेंट करा कर एक बहुत बड़ा कामयाबी हासिल की है। श्रीकांत सिंह के बेटे को छोड़कर 600 मजदूरों के बेटे- बेटी में किसी का भी काबिलियत शायद इनके बेटे के बराबर नही है।मजदूर अब इनलोगों की चालाकी समझ चुके हैं एबं मजदूरों ने अब इस झूठे तत्काल बाले केअर टेकर यूनियन को बाहर की रास्ता दिखाने के लिए मन बना लिये है।
इनलोगो की और एक चालाकी मजदूरों ने पकड़ ली है। इनलोगों ने मजदूरों को मजदूरों से लड़ाने की काम कर रहा है। जेम्को से आने बाले मजदूर भाइयो को गुमराह कर रहे हैं। उनलोगों को जेम्को के केटेगरी मैं रखकर तारकंपनी के मजदूरों से अलग बताने की कौसिस किया जा रहा है। बस्तुस्तिति यह है कि सभी मजदूर एक है सभी IS&WP के एम्प्लॉय है। किसी की कोई अलग पहचान नहीं है।
बैठक में यह भी निर्णय लिया गया कि यूनियन चुनाव के लिए प्रशासन को आबेदन दिया जाएगा।
और यह भी बताया गया कि विपक्षी यूनियन कभी भी यह नही कहा कि ग्रेड रिविजन वार्ता रोकदिया जाए। यह गलत एबं भ्रामक दुष्प्रचार केअर टेकर यूनियन द्वारा किया जा रहा है। क्योंकि इनलोगो से ग्रेड होने बाला नही है। अगर इनलोगों ने अपने इच्छाशक्ति दिखाया होता तो समय पर ग्रेड के लिए चार्टर ऑफ डिमांड सौपता। 6 महीना बीत जाने के बाद ग्रेड बनाने की इच्छाशक्ति जागरूक हुआ है। अंत में सभी ने एकजुट होकर निर्णय लिया कि अगर अबिलम्ब चुनाव नही होता है तो कोर्ट का शरण लिया जाएगा।
इस बैठक में आशीष अधिकारी,राम सिंह ,शरद मिश्रा, मंगल करवा, विमल कुमार, निरंजन सिंह ,रामदास, जसविंदर सिंह ,सुरेंद्र प्रसाद, निशित रंजन मिश्रा, श्याम कालिंदी ,विश्वजीत तिवारी,कारू कुमार, रंजीत ,देवाशीष घोष, राकेश कुमार ,सगीर अहमद, मनीष कुमार , पलविंदर सिंह, त्रिलोक सिंह( बिट्टू), गौरव बॉस ,अवतार सिंह ,मनमीत सिंह, जितेंद्र तिवारी, हीरा लाल करवा, वी के वर्गिस ,अरुण कुमार ,मनीष,अर्जुन बिरजू त्रिपाठी ,अमरेंद्र सिंह इत्यादि कर्मचारी गण उपस्थित थेl

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Next Post

झारखंड और बंगाल के बीच खेले गये फ्रेंडशिप मार्शल आर्ट्स टूर्नामेंट में झारखंड विजेता, बंगाल की टीम उपविजेता

Mon Nov 1 , 2021
जमशेदपुर:झारखंड मार्शल आर्ट्स ट्रेनिंग सेंटर के तत्वावधान में दो-दिवसीय मार्शल आर्ट्स फ्रेंडशिप टूर्नामेंट का आयोजन सोमवार को संपन्न हुआ। टूर्नामेंट में झारखंड और बंगाल की टीमों के मध्य मैत्री मुकाबले आयोजित हुए जिसमें झारखंड की टीम विजेता रही। टेल्को के आदर्श मंडप में आयोजित उक्त टूर्नामेंट में पश्चिम बंगाल के […]

You May Like

फ़िल्मी खबर