12-13 नवंबर को मनाये धनतेरस,श्रेयष्कर 13 कोस्वास्थ्य
को देखते तांबा बर्तन की खरीद श्रेष्ठ

3

जमशेदपुर : कार्तिक कृष्ण पक्ष की त्रयोदशी तिथि को धन्वंतरि जयंती है. इस दिन धन त्रयोदशी और धनतेरस मनाया जाता है. मान्यता है कि समुद्र मंथन के दौरान आज ही के दिन धन्वंतरि देव अमृत कलश के साथ प्रकट हुए थे. इनका पूजन करने से आरोग्यता की प्राप्ति होती है. इस दिन धातु की वस्तुओं की खरीदारी सुख-संपन्नता का कारक माना जाता है. इस वर्ष त्रयोदशी तिथि का शुभारंभ गुरुवार, 12 नवंबर की रात्रि 9.30 बजे से हो रहा है. जो शुक्रवार 13 नवंबर की संध्या करीब 6 बजे तक रहेगी. इसलिए 12 नवंबर की रात्रि 9.30 बजे के बाद से धनतेरस को लेकर खरीदारी की जा सकती है.
12 नवंबर को खरीदारी के लिए शुभ मुहूर्त रात्रि 11.30 से 1.07 बजे और रात्रि 2.45 से अगले दिन सुबह 5.57 तक है. वास्तव में धनतेरस में उदयाकालीन तिथि लेना श्रेयस्कर माना जाता है, जो कि शुक्रवार,13 नवंबर को है. 13 नवंबर को खरीदारी के लिए शुभ मुहूर्त सुबह 5.59 से 10.06 बजे, 11.08 से 12.51 बजे और दिवा 3.38 से संध्या 5.00 बजे तक है.
धनतेरस के शुभ मुहूर्त :
12 नवंबर
रात्रि 11.30 से 1.07 बजे तक
13 नवंबर
सुबह 5.59 से 10.06 बजे,
11.08 से 12.51 बजे
दिवा 3.38 से संध्या 5 बजे तक

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Next Post

राष्ट्रीय आदिवासी धर्म समन्वय समिति के एक प्रतिनिधिमंडल ने मुख्यमंत्री हेमन्त सोरेन सेमुलाकात की

Mon Nov 9 , 2020
जमशेदपुर /रांची : झारखंड के मुख्यमंत्री हेमन्त सोरेन से आज झारखंड मंत्रालय में राष्ट्रीय आदिवासी धर्म समन्वय समिति के एक प्रतिनिधिमंडल ने मुलाकात की। प्रतिनिधिमंडल ने मुख्यमंत्री को एक ज्ञापन सौंपा , प्रतिनिधिमंडल ने ज्ञापन के माध्यम से जनगणना 2021 के जनगणना प्रपत्र में आदिवासी धर्म कोड/कॉलम उपबंध करने के […]

You May Like