विद्या भारती चिन्मय विद्यालय में वार्षिक प्राइमरी कंसर्ट- ट्राईबल ट्रिविया (इंडो अफ्रीकन फिएस्टा

विद्या भारती चिन्मय विद्यालय
में वार्षिक प्राइमरी कंसर्ट- ट्राईबल ट्रिविया (इंडो अफ्रीकन फिएस्टा )

जमशेदपुर। आज शनिवार को विद्या भारती चिन्मय विद्यालय के मंच पर नर्सरी से कक्षा पांच तक के नन्हे परिंदों ने अपनी अपार क्षमताओं व संभावनाओं से भरे रंग-बिरंगे पंख खोले, नन्हे विद्यार्थियों की मनमोहक प्रस्तुति ने दर्शक दीर्घा को मुग्ध किया।
मुख्य अतिथि श्री मोहन गंटा, महाप्रबंधक (मानव संसाधन) टाटा मोटर्स लिमिटेड, टाटा मोटर्स व विद्यालय प्रबंध समिति के अध्यक्ष श्री मानस कुमार मिश्रा, सचिव श्री विष्णुचंद्र दीक्षित, विद्यालय प्राचार्या श्रीमती मीना विल्खू, उप प्राचार्य श्री मानसिंह, प्राथमिक स्तर प्रभारी डॉ. सरिता सिंह व अन्य विशिष्ट जनों की उपस्थिति में मंगलाचरण व वंदना नृत्य के साथ कार्यक्रम का शुभोद्घाटन हुआ। तत्पश्चात् पुष्पगुच्छ से अतिथियों का सम्मान तथा विद्यालय प्राचार्या श्रीमती मीना विल्खू द्वारा स्वागत भाषण दिया गया। फिर समूह गीत के माध्यम से ट्राईबल ट्रिविया का शानदार परिचय नन्हे बच्चों द्वारा दिया गया। तदुपरांत ट्राईबल ट्रिविया-इंडो अफ्रीकन फिएस्टा डांस ड्रामा की मनोहारी प्रस्तुति की गई, जो अफ्रीकी कार्टून चरित्र मोआना की नाटकीय अभिव्यक्ति को प्रदर्शित करती है । तत्पश्चात धरती माता के पुनर्स्थापन पर जय जयकार करते, अपनी खुशी साझा करते हुए उत्साहपूर्ण पहनावे के साथ नृत्य-संगीत, ताल, फैशन और रचनात्मकता का एक संयोजन प्रस्तुत किया गया। फिर कक्षा चौथी और पांचवीं के बाल कलाकारों ने इंडो अफ्रीकन डिलाइट के अंतर्गत नागाओं और अफ्रीकी संस्कृति के मिश्रण को अपने नृत्य के माध्यम से प्रस्तुत कर दर्शक दीर्घा की इंद्रियों को जागृत तथा मंत्रमुग्ध कर दिया।
तदुपरांत मुख्य अतिथि द्वारा संभाषण के पश्चात् विद्यार्थियों द्वारा धन्यवाद ज्ञापन व शांति पाठ के साथ कार्यक्रम का समापन हुआ।
उक्त कार्यक्रम सीबीएसई के दिशा-निर्देशों के अनुरूप बनाया गया जिसमें दक्षिण अफ्रीका को उस देश के रूप में आवंटित किया गया है जिसपर गतिविधियों को अंजाम दिया जाना है। वास्तव में समग्र विकास चिन्मय विज़न कार्यक्रम का लक्ष्य है; जहां बच्चा सार्वभौमिक दृष्टिकोण विकसित करने वाली दुनिया से जुड़ जाता है और जो चिन्मय विज़न कार्यक्रम के चार पहलुओं में से एक है। कुल मिलाकर कार्यक्रम प्रमुखत: वसुधैव कुटुंबकम की एकीकृत भावना को बलवती करता प्रतीत हुआ।
विद्यालय प्राचार्या श्रीमती मीना विल्खू के अनुसार इन दोहरे उद्देश्यों के साथ आयोजित उक्त कार्यक्रम का जुड़ाव एक प्रमुख उद्देश्य हमारी भावी योग्य व क्षमतावान नन्हे कलाकारों को अपनी प्रतिभा के प्रदर्शन के लिए अवसर व मंच प्रदान करना था।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Next Post

होली में फगुआ गीतों से झुमायेंगे भोजपुरी सुपरस्टार अरविंद अकेला उर्फ़ कल्लू

Mon Feb 13 , 2023
जमशेदपुर। आज रविवार को जमशेदपुर होली मिलन संघ कोर कमिटी की बैठक भालूबासा स्थित चौहान कॉम्प्लेक्स में संघ के संयोजक राजीव चौहान के अध्यक्ष्ता में सम्पन्न हुई,बैठक में निर्णय लिया गया की इस वर्ष भी संघ होली मिलन समारोह भव्य रूप से मनाने जा रही,जो की आगामी 26 फरवरी को […]